टैटू आर्ट: कला भी, करियर भी

टैटू आर्ट नये दौर में युवाओं के फैशन स्टेटमेंट का हिस्सा बन चुका है। यूं तो शरीर पर कलात्मक आकृतियां उभारना पुरातन दौर में भी चलन में रहा है, लेकिन तब यह कहीं न कहीं परम्परा से जुड़ा हुआ था। लोग ईश्वर का नाम, उनका चित्र या कोई पारंपरिक धरोहर टैटू के जरिये शरीर पर गुदवाते थे, पर अब इसमें विषयों की भरमार है। इन दिनों टैटू आर्ट चलन में आने से इसमें करियर की संभावनाएं भी बढ़ी हैं। टैटू मेकिंग को व्यवसाय बनाने के लिए आप में कला से लगाव, धर्य और परफेक्शन होना पहली शर्त है, क्योंकि शरीर पर एक बार टैटू बनाने के बाद दोबारा इसमें सुधार की गुंजाइश कम ही बचती है।
कैसे करें शुरुआतटैटू आर्टिस्ट बनने के लिए किसी बड़ी डिग्री या डिप्लोमा का होना बहुत जरूरी नहीं है। इसके लिए कई संस्थानों ने सामान्य ट्रेनिंग के जरिये टैटू मेकिंग सिखा कर लाइसेंस देना शुरू किया है। इसका लाइसेंस पाने के लिए एलायंस ऑफ प्रोफेशनल टैटूइस्ट्स (एपीटी) ने कुछ आधारभूत योग्यता मानक तय किए हैं।
शैक्षिक योग्यतायूं तो टैटू मेकिंग के लिए आपका कलात्मक क्षेत्र में माहिर होना ही काफी है, लेकिन शरीर से सीधे संबंधित कला होने के कारण आपको विज्ञान और स्टर्लाइजेशन का भी पूरा ज्ञान होना चाहिए। टैटू मेकिंग के लिए त्वचा की ऊपरी परत में स्याही द्वारा किसी डिजाइन को उकेरा जाता है। ऐसे में जरूरी है कि आप त्वचा संबंधी बीमारियों और संक्रमण के प्रति संवेदनशील हों।
टैटू आर्टिस्ट बनने के लिए जरूरीएक सफल टैटू आर्टिस्ट बनने के लिए डिजाइनिंग का ज्ञान होना बहुत जरूरी है। इस क्षेत्र में आगे बढ़ने की कुंजी भी सधे हुए हाथों से किसी कल्पना को ज्यों का त्यों किसी बॉडी पर उकेर देना है। यहां जरा-सी गलती आपकी साख को हानि पहुंचा सकती है।
हो सकता है सर्वोत्तम करियर     
इस करियर में अच्छे टैटू आर्टिस्ट करियर की शुरुआत 20 हजार रुपये की मासिक कमाई से कर सकते हैं। इसके बाद अपनी योग्यता और प्रसिद्धि के आधार पर आप अधिक से अधिक कमा सकते हैं। इसमें दो तरह से कमाया जा सकता है। अगर आपके पास निवेश के लिए भारी रकम है तो खुद का स्टूडियो खोल कर यह काम शुरू कर सकते हैं। वहीं दूसरा विकल्प फ्रीलांसर के तौर पर टैटू एक्सपर्ट बनने का है। यहां डिजाइन के हिसाब से प्रति घंटे की कमाई होती है। आप बॉडी आर्ट बना कर एक दिन में 10 हजार रुपये तक कमा सकते हैं।
टैटू आर्टिस्ट बनना है तो
पोर्टफोलियो तैयार रखें:
 जब भी आप कहीं टैटू आर्टिस्ट के तौर पर काम करने जा रहे हैं तो आपका पोर्टफोलियो तैयार होना चाहिए। इसके लिए आपके पास किसी बड़े स्टूडियो से साल-दो साल की अप्रेंटिसशिप का प्रमाण पत्र और आपके द्वारा बनाए गए खास-खास डिजाइन होने चाहिएं।
मशीन और औजारों का ज्ञान हो: एपीटी के मानकों के अनुसार यह अप्रेंटिसशिप कम से कम तीन साल की होनी चाहिए। इस दौरान आर्टिस्ट को एक टैटू डिजाइन सीखने के साथ-साथ प्रोफेशनल तौर-तरीके भी सीखने चाहिए। टैटू मशीन के इस्तेमाल से भी अहम है स्टरलाइज्ड औजारों की उपयोगिता को समझना।
सेमिनार से जुड़ी जानकारियां रखें: टैटू मेकिंग के क्षेत्र में आए दिन त्वचा रोगों और संक्रमण को लेकर सेमिनार होते रहते हैं। एक सफल आर्टिस्ट अगर टैटू मेकिंग के क्षेत्र में आकर भी इस बारे में नहीं जानता तो वह कभी भी इस क्षेत्र में सफलता हासिल नहीं कर सकता। आपको लाइसेंस लेने के लिए भी इससे संबंधित दस्तावेज देने होंगे।
जल्द से जल्द लाइसेंस ले लें: टैटू आर्टिस्ट को 360 घंटे की ट्रेनिंग और 50 सफल टैटू बनाने पर एक स्वीकृत आर्टिस्ट मान लिया जाता है। इसके बाद एक लिखित परीक्षा द्वारा उसके गुणों की जांच की जाती है। इस के बाद ही उसे किसी नामी संस्था की ओर से लाइसेंस दिया जा सकता है।
सफलता के लिए लगातार सीखते रहें: टैटू आर्टिस्ट के लिए हर पल बदलते फैशन से अपडेट रहना जरूरी है। अगर वह इंटरनेट, सेमिनार और वर्कशॉप द्वारा अपने को अपडेट करता रहे, तभी वह सफल आर्टिस्ट बन सकता है।

यहां सीख सकते हैं-
केडीजेड टैटूज
 (www.kdztattoos.com)     
टैटूज बाइ माइक (www.tattoosbymike.com)
डेविल्ज टैटू (www.tattoosnewdelhi.com)

Popular posts from this blog

जैव प्रौद्योगिकी में कैरियर

वनस्पति में करियर