Saturday, March 19, 2016

योग में कॅरियर बनाएं

योग से सिर्फ आपका मानसिक संतुलन ठीक रहता है बल्कि कसरत, मेडिटेशन से आपकी बॉडी भी फिट रहती है और शारीरिक स्वास्थ्य भी ठीक रहता है। लोगों के फिट रहने की आदत ने योग में करियर की नई राहें खोल दी हंै। यही वजह है कि युवा योगा इंस्ट्रक्टर के रूप में करियर बना रहे हैं।जब हम बात योग की करते हैं तो हमारे जहन में सिर्फ आसन, प्राणायाम, ध्यान, मुद्राएं ही आती हैं, लेकिन ऐसा नहीं है। योग बहुत ही विस्तृत विषय है। इसका क्षेत्र कर्म योग, ज्ञान योग, हठ योग, मंत्र योग, कुंडली जागृति जैसे कई योग-विषयों तक है।
योग सिखाने के लिए जरूरी स्किल्स
(1)
योग में करियर बनाने के लिए जरूरी है कि आप एक अच्छे वक्ता हों। आप में एक व्यक्ति से लेकर ग्रुप तक को अपनी बात योग के जरिए समझाने की क्षमता होनी चाहिए।
(2)
योग टीचर बनने से पहले स्वंय भी योग के बारे में विस्तृत जानकारी हो। एक भी गलत आसन, कसरत नई बीमारी का जन्म दे सकती हैं।
योग में करियर से इनकम
योग को करियर चुनने की सोच रहे हैं तो यह अच्छा विचार है। लेकिन करियर बनाने से पहले इससे होने वाली आमदनी के बारे में जान लें। योग आप किसको करा रहे हैं इससे आपकी आमदनी तय होती है। कई योग शिक्षण संस्थान हैं जहां आपको नौकरी मिल सकती है। आप अपना काम शुरू कर सकते हैं। काम कितना मिलेगा, यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप योग को कितना समझते हैं, दूसरों को योग से कितना प्रभावित कर पाते हैं। कुछ कंपनियां अपने कर्मचारियों के लिए स्ट्रेस मैनेजमेंट की क्लास लगाती हैं। इन क्लास को लेने वाले योग गुरु ही होते हैं। अगर आप बड़ी कंपनियों में अपनी सेवाएं दे रहे हैं तो इनकम ज्यादा होगी। अगर आप किसी अधिक आमदनी वाले परिवार, व्यक्ति या ग्रुप को योग करा रहे हैं तो आपकी इनकम ज्यादा होगी। लेकिन यह इस बात पर भी निर्भर करेगा कि आप फीस कितने में तय करा पाते हैं। योग को आप करियर चुन रहे हैं तो ये जान लीजिए कि इस क्षेत्र में काम के घंटे तय नहीं है। इतना तो तय है कि अधिकतर काम सुबह के समय मिलेंगे।
योग की बढ़ती मांग से विदेशों में भी काम के काफी अवसर हैं।
योग कोर्स कराने वाले कुछ संस्थान
आप इन सरकारी और गैर-सरकारी संस्थानों से योग सीख सकते हैं।
(1)
मोरारजी देसाई नेशनल इस्टीट्यूट ऑफ योग, दिल्ली
(
ग्रेजुएट करने के बाद यहां से 3 साल का बीएससी योगा साइंस, 1 साल का डिप्लोमा और कुछ पार्ट टाइम योग के कोर्स किए जा सकते हैं)
www.yogamdniy.nic.in
(2)
बिहार स्कूल ऑफ योगा, मुंगेर
(
यहां से 4 महीने और 1 साल का कोर्स कर सकते हैं)
www.biharyoga.net/bihar-yoga-bharati/byb-courses
(3)
भारतीय विद्या भवन, दिल्ली
(
यहां से आप 6 महीने से लेकर 1 साल तक का कोर्स कर सकते हैं)
www.bvbdelhi.org/yoga.html
(4)
अय्यंगर योग सेंटर, पुणे
(
यहां से आप योग का प्रशिक्षण ले सकते हैं)
http://iyengaryogakshema.org/
(5)
कैवल्यधाम योग इंस्टीट्यूट, पुणे
(
यहां से सर्टिफिकेट कोर्स इन योग, पीजी डिप्लोमा इन योग एजुकेशन, पीजी डिप्लोमा इन योग थिरैपी, फाउंडेशन कोर्स इन योग, एडवांस योग टीचर्स ट्रैनिंग, बीए- योग फिलोस्फी, मास्टर क्लास फॉर योग टीचर्स का कोर्स किया जा सकता है।)
http://kdham.com/college/
(6)
स्वामी विवेकानंद योग अनुसंधान संस्थान, बेंगलुरु
(
यह डीम्ड यूनिवर्सिटी है। यहां से रेगुलर और डिस्टेंस योगा कोर्स कर सकते हैं। योग में बीएससी, एमएससी, पीएचडी की डिग्री ले सकते हैं।)
  www.svyasa.org
(7)
इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ योगिक साइंस एंड रिसर्च
(
यहां से योग में कई छोटे अंतराल के कोर्स से लेकर मास्टर डिग्री तक के कोर्स किए जा सकते हैं)
www.iiysar.co.in/
(8)
देव संस्कृति विश्वविद्यालय, हरिद्वार, उत्तराखंड
(
यहां से आप योग मे बीएससी से लेकर पीएचडी तक के कोर्स कर सकते हैं)
www.dsvv.ac.in
(9)
योग इंस्टीट्यूट सांताक्रूज, मुंबई
(
सन् 1918 में स्थापित इस योग संस्थान से योग की शिक्षा ली जा सकती है।)
http://theyogainstitute.org/
10-
गुरूकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय, हरिद्वार, उत्तराखंड
(
यहां से योग में डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स किए जा सकते हैं।
http://gkv.ac.in/diplomayoga-certificate