Thursday, March 23, 2023

कंप्यूटर एकाउंटिंग करियर स्कोप

आजकल तकरीबन हरेक काम कंप्यूटर्स पर होने लगा है. इसलिए, अगर आप कंप्यूटर एकाउंटिंग में एक्सपर्ट हैं तो इस आर्टिकल में आपके लिए भारत में उपलब्ध कंप्यूटर एकाउंटिंग के कोर्सेज, करियर ऑप्शन्स और करियर स्कोप के बारे में सारी महत्त्वपूर्ण जानकारी प्रस्तुत है.

इस इंटरनेट और डिजिटल दौर में कंप्यूटर एकाउंटेंसी की डिमांड लगातार बढ़ रही है. अब कंप्यूटर एकाउंटिंग के कई बेहतरीन सॉफ्टवेयर्स आ गए हैं और अधिकतर कंपनियों तथा इंस्टीट्यूशंस के लिए इनकम और एक्सपेंडीचर का हिसाब-किताब रखना या इनकम टैक्स रिटर्न ऑनलाइन अपलोड करना एकाउंट्स विभाग के कुछ ऐसे जरूरी काम होते हैं जो इन सॉफ्टवेयर्स के माध्यम से काफी कम समय में और सटीकता के साथ संपन्न किए जा सकते हैं. भारत में गुड्स एंड सर्विस टैक्स (GST) लागू होने के बाद, इन कंप्यूटर एकाउंटिंग सॉफ्टवेयर्स और ऑनलाइन टूल्स का महत्व निरंतर बढ़ रहा है. दरअसल, इन दिनों प्रत्येक ऑफिस या इंस्टीट्यूट में आपको सभी प्रोफेशनल्स अक्सर अपने कंप्यूटर या लैपटॉप पर काम करते हुए दिखते हैं.

इसलिए, इस नए दौर में अधिकतर कंपनियों और दफ्तरों के एकाउंट्स डिपार्टमेंट्स भी बहुत हद तक कंप्यूटर एकाउंटिंग पर निर्भर हो गये हैं. हमारे देश में चार्टर्ड एकाउंटेंट्स, कंपनी सेक्रेटरी और ICWA एक्सपर्ट्स भी अब कंप्यूटर एक्सपर्ट्स होते हैं और अपने डेली ऑफिस वर्क को अपने कंप्यूटर या लैपटॉप पर बड़ी आसानी से, कम समय में पूर्ण सटीकता के साथ निपटा लेते हैं. इसलिए, इस आर्टिकल में हम आपके लिए भारत में उपलब्ध कंप्यूटर एकाउंटिंग के कोर्सेज के साथ ही करियर स्कोप के बारे में चर्चा कर रहे हैं:  

कंप्यूटर एकाउंटिंग का परिचय और महत्त्व 

सन 1980 के दशक तक हमारे देश में एकाउंट्स की फील्ड से संबंधित सभी काम कई किस्म की एकाउंट्स बुक्स जैसेकि, लेजर, कैशबुक, स्पेशल पर्पस बुक और एकाउंट्स बहीखाता आदि के माध्यम से किया जाता था. अब इन सभी एकाउंट्स बुक्स की जगह कंप्यूटर शीट्स ने ले ली है. अब कम्प्यूटर की मदद से ये सारे काम बहुत आसान हो गए हैं.  आज के इस डिजिटल दौर में हम कंप्यूटर एकाउंटिंग को बिलकुल अनदेखा नहीं कर सकते हैं क्योंकि सभी मॉल्स, शोरुम्स, BPO, KPO, इंडस्ट्रीज और हरेक ऑफिस, बैंक या फाइनेंशियल इंस्टीट्यूट में एकाउंट्स का हरेक काम अब कंप्यूटर पर होने लगा है. दरअसल, कंप्यूटर एकाउंटिंग के महत्व को हम निम्नलिखित पॉइंट्स में प्रस्तुत कर सकते हैं:

•    कंप्यूटर एकाउंटिंग के माध्यम से अधिक से अधिक डाटा काफी कम समय में प्रोसेस किया जा सकता है जिस वजह से हरेक ऑफिस या कंपनी का काफी समय बच जाता है.  
•    कंप्यूटर एकाउंटिंग के माध्यम से फाइनेंशियल रिपोर्ट्स सटीक होने के साथ ही बहुत जल्दी तैयार हो जाती हैं.
•    कंप्यूटर एकाउंटिंग से कागज़ की खपत काफी कम हो गई है.
•    कंप्यूटर एकाउंटिंग में सारे डाटा का ट्रैक रिकॉर्ड होने की वजह से चोरी और धोखेबाजी को रोकने में कामयाबी मिली है.
•    ऑनलाइन क्लाउड फैसिलिटी का उपयोग करते हुए कंप्यूटर एकाउंटिंग के माध्यम से कंप्यूटर के काफी कम स्पेस में सारा डाटा स्टोर किया जा सकता है जिससे रैम की स्पीड के साथ ही  कंप्यूटर की परफॉरमेंस भी अच्छी रहती है.
•    कंप्यूटर एकाउंटिंग के लिए स्किल्ड मैनपावर की जरूरत होती है.
•    कंप्यूटर एकाउंटिंग के लिए हरेक ऑफिस या कंपनी अपनी जरूरत के मुताबिक एकाउंटिंग सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करती है और आजकल टेक्निकल प्रॉब्लम्स को सॉल्व करने के लिए ऑप्शनल कंप्यूटर सॉफ्टवेयर तथा एक्सपर्ट्स IT पेशेवरों की जरूरत भी हरेक ऑफिस या कंपनी को पड़ती है.
•    कंप्यूटर एकाउंटिंग के माध्यम से हरेक कंपनी अपना कारोबार काफी बढ़ा सकती है और कंप्यूटर एकाउंटिंग से बहुत अधिक मात्रा में डाटा प्रोसेसिंग करके एकाउंट्स रिकार्ड्स लंबे समय तक सुरक्षित रखे जा सकते हैं.

कंप्यूटर एकाउंटिंग प्रोफेशनल्स के लिए जरुरी स्किल सेट

एकाउंटिंग और कंप्यूटर एकाउंटिंग से जुड़े सभी काम करने के लिए आजकल कैंडिडेट्स एजुकेशनल क्वालिफिकेशन के साथ प्रोफेशनल ट्रेनिंग भी लेते हैं. एकाउंटिंग और कंप्यूटर एकाउंटिंग की फ़ील्ड में काम करने के लिए पेशेवरों के पास अगर निम्नलिखित स्किल-सेट हो तो वे लोग अपने काम को बेहतरीन तरीके से पूरा कर सकते हैं और एक सफल पेशेवर के तौर पर अपनी पहचान बनाने के साथ-साथ काफी अच्छी कमाई भी कर सकते हैं. एकाउंटिंग और कंप्यूटर एकाउंटिंग के लिए जरुरी स्किल्स निम्नलिखित हैं:

•    पेशेवर के पास बेहतरीन कम्युनिकेशन स्किल्स होने चाहिए.
•    सटीक डाटा प्रोसेसिंग के लिए बेहतरीन एनालिटिक और इंटरपर्सनल स्किल्स भी हैं जरुरी.
•    एकाउंटेंसी से संबंधित सभी लेटेस्ट सॉफ्टवेयर्स की अच्छी जानकारी होनी चाहिए.
•    मैथमेटिक्स में मास्टरी भी इस पेशे के लिए बहुत जरुरी है.
•    एकाउंटिंग और कंप्यूटर एकाउंटिंग के बेसिक्स की अच्छी जानकारी और समझ होनी चाहिए.
•    कंप्यूटर पर कंप्यूटिंग एरियाज में कई घंटे तक काम करने में सक्षम हों.

कंप्यूटर एकाउंटिंग: भारत में उपलब्ध हैं ये प्रमुख कोर्सेज

किसी भी मान्यताप्राप्त एजुकेशनल बोर्ड से 12वीं पास (प्रेफरेबली कॉमर्स सब्जेक्ट के साथ) स्टूडेंट्स कंप्यूटर एकाउंटिंग में ग्रेजुएशन/ पोस्ट ग्रेजुएशन लेवल का डिग्री, डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स कर सकते हैं. हमारे देश में कंप्यूटर एकाउंटिंग से संबंधित प्रमुख कोर्सेज निम्नलिखित हैं:

•    क्विक टैली
•    स्मार्ट टैली
•    टैली प्रोफेशनल
•    स्मार्ट एक्सेल (2010)
•    मास्टर इन एक्सेल (2010)
•    सर्टिफाइड ई-एकाउंटेंट्स

अन्य प्रमुख कोर्सेज निम्नलिखित हैं:

•    NSDC स्किल कोर्सेज
•    वर्चुअल MBA
•    मिड ब्रेन एक्टिवेशन
•    इज़ी टॉक (स्पोकन)

भारत के इन प्रमुख कॉलेज और इंस्टीट्यूट्स से करें कंप्यूटर एकाउंटिंग के कोर्सेज 

•    दी इंस्टीट्यूट ऑफ़ चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ऑफ़ इंडिया, नई दिल्ली
•    दी इंस्टीट्यूट ऑफ़ कंपनी सेक्रेटरीज़ ऑफ़ इंडिया, नई दिल्ली
•    इंस्टीट्यूट ऑफ़ कंप्यूटर एकाउंटेंसी, पूसा रोड, दिल्ली
•    नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ फाइनेंस एकाउंट्स, दिल्ली
•    कॉलेज ऑफ़ कंप्यूटर एकाउंटेंट्स, पुणे, महाराष्ट्र

कंप्यूटर एकाउंटिंग: भारत में उपलब्ध प्रमुख जॉब प्रोफाइल्स/ करियर ऑप्शन्स

•    एकाउंटेंट
•    ऑडिटर
•    सीनियर एकाउंटेंट
•    एकाउंट्स एग्जीक्यूटिव
•    एकाउंट्स असिस्टेंट  
•    सीनियर एकाउंट्स एग्जीक्यूटिव
•    एकाउंटिंग क्लर्क
•    एकाउंटिंग मैनेजर
•    कॉस्ट एंड मैनेजमेंट एकाउंटेंट
•    टैक्स कंसल्टेंट्स
•    ऑडिट ऑफिसर्स
•    कैशियर्स
•    कमर्शियल असिस्टेंट
•    बिजनेस एग्जीक्यूटिव
•    फाइनेंस मैनेजर/ फाइनेंस ऑफिसर
•    फाइनेंशियल एडवाइज़र
•    फाइनेंशियल एग्जीक्यूटिव
•    डायरेक्टर – फाइनेंस
•    स्टॉक ब्रोकर
•    एकाउंट्स एंड GST स्पेशलिस्ट
•    सर्टिफाइड पब्लिक अकाउंटेंट
•    चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर
•    कंपनी सेक्रेटरी
•    चार्टर्ड एकाउंटेंट

कंप्यूटर एकाउंटिंग: भारत में मिलता है यह सैलरी पैकेज

पेस्केल.कॉम के मुताबिक हमारे देश में किसी सीनियर एकाउंटेंट की एवरेज सैलरी 4.1 लाख रुपये सालाना या उससे अधिक हो सकती है. किसी फ्रेशर एकाउंट्स एग्जीक्यूटिव की एवरेज सैलरी 2.65 लाख रुपये सालाना और सीनियर एकाउंट्स एग्जीक्यूटिव की एवरेज सैलरी 3.96 लाख रुपये सालाना तक होती है. एकाउंटिंग मैनेजर को एवरेज 6.6 लाख रुपये सालाना का सैलरी पैकेज मिलता है. इसी तरह, कंप्यूटर एकाउंटिंग की फील्ड अभी नई है और इस फील्ड में एक्सपर्ट पेशेवरों को आजकल कॉर्पोरेट हाउसेस और MNCs में कई लाख रुपये सालाना के काफी आकर्षक सैलरी पैकेज मिल रहे हैं.

अगर आप एकाउंट्स की फील्ड के पेशेवर हैं या कॉमर्स और एकाउंट्स के स्टूडेंट हैं तो आप कंप्यूटर एकाउंटिंग की फील्ड में डिग्री, डिप्लोमा या सर्टिफिकेट कोर्स करके एकाउंटिंग से जुड़े विभिन्न करियर ऑप्शन्स में से कोई सूटेबल करियर चुन सकते हैं. हमारे देश में अब एकाउंट्स की फील्ड में काफी अधिक एजुकेशनल कोर्सेज और प्रोफेशनल ट्रेनिंग उपलब्ध होने के साथ-साथ लगातार विकसित होती इंडियन इकॉनमी और मार्केट तथा ऑनलाइन मार्केटिंग ग्रोथ के कारण अब आपके पास विभिन्न सरकारी और प्राइवेट सेक्टर्स में एकाउंटिंग की फील्ड में अपने लिए कोई सूटेबल जॉब ज्वाइन करने के ढेरों अवसर उपलब्ध हैं. इसलिए जरुर इन अवसरों से पूरा फायदा उठायें. ऑल दी बेस्ट!  

No comments:

Post a Comment

BA in Animation and Graphic Design