Monday, March 20, 2023

बीएससी इन अप्थलमीक टेक्नोलॉजी

बीएससी इन अप्थलमीक टेक्नोलॉजी (B.Sc. in Ophthalmic Technology) एक तकनीकी कोर्स है जो छात्रों को आँखों के लिए परीक्षण और उपचार करने के लिए शिक्षा प्रदान करता है। यह एक तकनीकी कोर्स है जो छात्रों को आंखों से संबंधित विभिन्न बीमारियों के लिए डायग्नोस्टिक और उपचार के लिए तकनीकी ज्ञान और कौशल प्रदान करता है।


इस कोर्स का अध्ययन करने के लिए अभ्यर्थी कम से कम 50% मार्क्स वाले 10+2 (Science) पास होना चाहिए। इसके अलावा कुछ संस्थानों में एंट्रेंस टेस्ट भी लिया जाता है।


इस कोर्स के अंतर्गत छात्रों को निम्नलिखित विषयों पर पढ़ाई कराई जाती है:


बेसिक एनाटॉमी और फिजियोलॉजी

बेसिक ओप्थाल्मिक इंस्ट्रुमेंटेशन और मशीनरी

ओप्थाल्मिक फार्माकोलॉजी और थेरापी

ऑप्टिकल डिस्पेंसिंग और फिटिंग

ऑप्टिकल बायोमेट्री और संचार

ओप्थाल्मिक सर्जरी

ऑप्टिकल कोहरेंसी टोमोग्राफी और उल्ट्रासाउंड डायग्नोसिस

बीएससी इन अप्थलमीक टेक्नोलॉजी कोर्स के अंतर्गत छात्रों को विभिन्न विषयों पर पूर्ण जानकारी प्रदान की जाती है जैसे - आंखों की विस्तृत जांच, आंखों की रोशनी के लिए उपचार तथा सर्जरी आदि। छात्रों को अप्थल्मिक टेक्नोलॉजी में अनुसंधान और विकास के अवसरों के बारे में भी प्रशिक्षण दिया जाता है। छात्रों को अप्थल्मिक उपकरणों के बारे में भी जानकारी दी जाती है, जिसमें आँखों की स्कैनिंग और टेस्टिंग के लिए उपयोग किए जाने वाले उपकरण शामिल होते हैं।


छात्रों को अप्थल्मिक टेक्नोलॉजी के विभिन्न क्षेत्रों में कैरियर विकल्प भी प्रदान किए जाते हैं, जैसे रोशनी उपचार तकनीशियन, स्पेशल टेक्नोलॉजिस्ट, ऑप्टोमेट्रिस्ट, आँखों की संचालन और दृष्टि शिक्षण अधिकारी आदि।


इस बीएससी कोर्स की अधिकतर प्रवेश परीक्षाएं राज्य स्तरीय होती हैं, 

अप्थलमीक टेक्नोलॉजी में बीएससी कोर्स छात्रों को ऑप्टोमेट्री, नेत्र रोगों का निदान, नेत्र रोगों के उपचार, नेत्र विज्ञान, नेत्र विज्ञान के तंत्र, नेत्र उपचार तकनीक, नेत्र चिकित्सा इमेजिंग, नेत्र फारेंसिक्स और नेत्र संबंधी बिजली का अध्ययन कराता है। इसके अलावा, यह छात्रों को नेत्र विज्ञान के विभिन्न क्षेत्रों में ज्ञान प्रदान करता है, जैसे कि नेत्र ज्योतिष, नेत्र रोग रोकथाम, नेत्र विज्ञान में नवीनतम विकास आदि।


इस कोर्स को पूरा करने के बाद, छात्र विभिन्न चिकित्सा केंद्रों, नेत्र रोग विशेषज्ञों, नेत्र चिकित्सा शासकीय और गैर-शासकीय संस्थानों, वैज्ञानिक और तकनीशियन के रूप में नौकरियों के लिए योग्य हो जाते हैं। छात्र इस कोर्स के बाद अपना स्वयं का नेत्र चिकित्सा केंद्र खोल सकते हैं या किसी नेत्र चिकित्सा केंद्र में काम कर सकते हैं।

बीएससी इन अप्थलमीक टेक्नोलॉजी को भारत में कई विश्वविद्यालय और कॉलेज ऑफर करते हैं। इनमें से कुछ प्रमुख विश्वविद्यालयों के नाम हैं:


आई एम टी, गाजियाबाद

अखिल भारतीय अनुद्योगिक ट्रेनिंग संस्थान (एआईआईटी), दिल्ली

महाराष्ट्र आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय, नाशिक

डीयू, दिल्ली

अलिगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय, अलिगढ़

बरेली हिंदी विश्वविद्यालय, बरेली

संजय गांधी पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, लखनऊ

बाबा फ़रीद विश्वविद्यालय, फ़रीदाबाद

इनके अलावा भारत में कई अन्य संस्थान भी हैं जो बीएससी इन अप्थलमीक टेक्नोलॉजी की पाठ्यक्रम समर्थित करते हैं। आप इन संस्थानों की वेबसाइट और पूर्व स्टूडेंट्स से बातचीत करके अपने रुचि और आवश्यकताओं के अनुसार अपना चयन कर सकते हैं।

No comments:

Post a Comment

BA in Animation and Graphic Design