वेडिंग प्लानर : करियर की शानदार प्लानिंग

आज के युग में युवा पीढी अपने करियर को लेकर सजग हो गयी है. हर कोई करियर के क्षेत्र में एक दूसरे से आगे बढना चाहता है. युवाओ के लिये करियर बनाने के लिये कई रास्ते है और वह किसी भी क्षेत्र को चुन कर अपना करियर बना सकता है. इंडियन वेडिंग इंडस्ट्री युवाओं के इन्हीं सपनों को पूरा करने का एक मौका दे रही है. आज बडी तादाद में युवा, वेडिंग प्लानर के तौर पर अपने करियर का आगाज कर रहे हैं, क्योंकि वेडिंग प्लानिंग में उन्हें अपनी क्रिएटिविटी को पेश करने का सुनहरा अवसर मिल रहा है.
आज के दौर में अगर आपके पास क्रिएटिव आइडिया है और उसे हकीकत में बदलने का हुनर आता है, तो अपनी मनपसंद फील्ड में ऊंची उडान भरने के लिए पूरा आकाश है. इन दिनों अधिकतर युवा अपने पैशन को फॉलो करते हुए ऎसा करियर चुन रहे हैं, जिसमें काम करने का अपना एक अलग मजा हो. जहां मेहनत हो, तो साथ में पैसा भी भरपूर हो.
कोर्स और ट्रेनिंग -
वैसे तो इस फील्ड में आने के लिए किसी विशेष एजुकेशनल क्वालिफिकेशन की जरूरत नहीं होती, लेकिन ग्रेजुएशन करना अच्छा रहेगा. इंडिया में कुछ इंस्टीट्यूट्स हैं, जो वेडिंग प्लानिंग में सर्टिफिकेट या डिप्लोमा कोर्स संचालित करते हैं. इसके अलावा, आप होटल मैनेजमेंट, इवेंट मैनेजमेंट या फ्लोरल मैनेजमेंट जैसे कोर्स करके भी इसमें एंट्री ले सकते हैं.
स्कोप इन इंडस्ट्री -
इंडिया में थीम या डेस्टिनेशन वेडिंग का चलन तेजी से बढा है. लोग कुछ नया या भव्य करने के लिए खुलकर खर्च कर रहे हैं, उसे देखते हुए वेडिंग प्लानर की डिमांड भी बढने लगी है. ऎसे में जिन्हें भी नए-नए लोगों से मिलना, उनसे कॉन्टैक्ट स्थापित करना अच्छा लगता है, उनके लिए यह एक परफेक्ट प्रोफेशन है. वे चाहें, तो फ्लोरिस्ट, केटरर, फोटोग्राफर, ट्रैवल एजेंट आदि के रूप में भी काम कर सकते हैं या फिर कंसल्टेंसी या अपना स्टार्ट-अप शुरू कर सकते हैं. इसके अलावा होटल, इवेंट मैनेजमेंट कंपनीज, वेडिंग प्लानर फम्र्स में भी हायरिंग होती है.
मंदी का खतरा नहीं -
इंडियन वेडिंग मार्केट करीब 25 प्रतिशत सालाना की दर से बढ़ रहा है. मैन्युफैक्चरर्स से लेकर रिटेलर्स तक, हर कोई वेडिंग सीजन का इंतजार करता है. इसके मद्देनजर वेडिंग इंडस्ट्री में कभी मंदी नहीं आ सकती है. लोग अब दिल खोलकर पैसे खर्च कर रहे हैं. ऎसे में पेशेवर वेडिंग प्लानर की डिमांड बढ़ रही है.
 
आज के युग में युवा पीढी अपने करियर को लेकर सजग हो गयी है. हर कोई करियर के क्षेत्र में एक दूसरे से आगे बढना चाहता है. युवाओ के लिये करियर बनाने के लिये कई रास्ते है और वह किसी भी क्षेत्र को चुन कर अपना करियर बना सकता है. इंडियन वेडिंग इंडस्ट्री युवाओं के इन्हीं सपनों को पूरा करने का एक मौका दे रही है. आज बडी तादाद में युवा, वेडिंग प्लानर के तौर पर अपने करियर का आगाज कर रहे हैं, क्योंकि वेडिंग प्लानिंग में उन्हें अपनी क्रिएटिविटी को पेश करने का सुनहरा अवसर मिल रहा है.
आज के दौर में अगर आपके पास क्रिएटिव आइडिया है और उसे हकीकत में बदलने का हुनर आता है, तो अपनी मनपसंद फील्ड में ऊंची उडान भरने के लिए पूरा आकाश है. इन दिनों अधिकतर युवा अपने पैशन को फॉलो करते हुए ऎसा करियर चुन रहे हैं, जिसमें काम करने का अपना एक अलग मजा हो. जहां मेहनत हो, तो साथ में पैसा भी भरपूर हो.
कोर्स और ट्रेनिंग -
वैसे तो इस फील्ड में आने के लिए किसी विशेष एजुकेशनल क्वालिफिकेशन की जरूरत नहीं होती, लेकिन ग्रेजुएशन करना अच्छा रहेगा. इंडिया में कुछ इंस्टीट्यूट्स हैं, जो वेडिंग प्लानिंग में सर्टिफिकेट या डिप्लोमा कोर्स संचालित करते हैं. इसके अलावा, आप होटल मैनेजमेंट, इवेंट मैनेजमेंट या फ्लोरल मैनेजमेंट जैसे कोर्स करके भी इसमें एंट्री ले सकते हैं.
स्कोप इन इंडस्ट्री -
इंडिया में थीम या डेस्टिनेशन वेडिंग का चलन तेजी से बढा है. लोग कुछ नया या भव्य करने के लिए खुलकर खर्च कर रहे हैं, उसे देखते हुए वेडिंग प्लानर की डिमांड भी बढने लगी है. ऎसे में जिन्हें भी नए-नए लोगों से मिलना, उनसे कॉन्टैक्ट स्थापित करना अच्छा लगता है, उनके लिए यह एक परफेक्ट प्रोफेशन है. वे चाहें, तो फ्लोरिस्ट, केटरर, फोटोग्राफर, ट्रैवल एजेंट आदि के रूप में भी काम कर सकते हैं या फिर कंसल्टेंसी या अपना स्टार्ट-अप शुरू कर सकते हैं. इसके अलावा होटल, इवेंट मैनेजमेंट कंपनीज, वेडिंग प्लानर फम्र्स में भी हायरिंग होती है.
मंदी का खतरा नहीं -
इंडियन वेडिंग मार्केट करीब 25 प्रतिशत सालाना की दर से बढ़ रहा है. मैन्युफैक्चरर्स से लेकर रिटेलर्स तक, हर कोई वेडिंग सीजन का इंतजार करता है. इसके मद्देनजर वेडिंग इंडस्ट्री में कभी मंदी नहीं आ सकती है. लोग अब दिल खोलकर पैसे खर्च कर रहे हैं. ऎसे में पेशेवर वेडिंग प्लानर की डिमांड बढ़ रही है.
- See more at: http://www.newstracklive.com/news/vedin-planning-created-in-their-careers-1003076-1.html#sthash.Sf4fZ7Oh.dpuf
आज के युग में युवा पीढी अपने करियर को लेकर सजग हो गयी है. हर कोई करियर के क्षेत्र में एक दूसरे से आगे बढना चाहता है. युवाओ के लिये करियर बनाने के लिये कई रास्ते है और वह किसी भी क्षेत्र को चुन कर अपना करियर बना सकता है. इंडियन वेडिंग इंडस्ट्री युवाओं के इन्हीं सपनों को पूरा करने का एक मौका दे रही है. आज बडी तादाद में युवा, वेडिंग प्लानर के तौर पर अपने करियर का आगाज कर रहे हैं, क्योंकि वेडिंग प्लानिंग में उन्हें अपनी क्रिएटिविटी को पेश करने का सुनहरा अवसर मिल रहा है.
आज के दौर में अगर आपके पास क्रिएटिव आइडिया है और उसे हकीकत में बदलने का हुनर आता है, तो अपनी मनपसंद फील्ड में ऊंची उडान भरने के लिए पूरा आकाश है. इन दिनों अधिकतर युवा अपने पैशन को फॉलो करते हुए ऎसा करियर चुन रहे हैं, जिसमें काम करने का अपना एक अलग मजा हो. जहां मेहनत हो, तो साथ में पैसा भी भरपूर हो.
कोर्स और ट्रेनिंग -
वैसे तो इस फील्ड में आने के लिए किसी विशेष एजुकेशनल क्वालिफिकेशन की जरूरत नहीं होती, लेकिन ग्रेजुएशन करना अच्छा रहेगा. इंडिया में कुछ इंस्टीट्यूट्स हैं, जो वेडिंग प्लानिंग में सर्टिफिकेट या डिप्लोमा कोर्स संचालित करते हैं. इसके अलावा, आप होटल मैनेजमेंट, इवेंट मैनेजमेंट या फ्लोरल मैनेजमेंट जैसे कोर्स करके भी इसमें एंट्री ले सकते हैं.
स्कोप इन इंडस्ट्री -
इंडिया में थीम या डेस्टिनेशन वेडिंग का चलन तेजी से बढा है. लोग कुछ नया या भव्य करने के लिए खुलकर खर्च कर रहे हैं, उसे देखते हुए वेडिंग प्लानर की डिमांड भी बढने लगी है. ऎसे में जिन्हें भी नए-नए लोगों से मिलना, उनसे कॉन्टैक्ट स्थापित करना अच्छा लगता है, उनके लिए यह एक परफेक्ट प्रोफेशन है. वे चाहें, तो फ्लोरिस्ट, केटरर, फोटोग्राफर, ट्रैवल एजेंट आदि के रूप में भी काम कर सकते हैं या फिर कंसल्टेंसी या अपना स्टार्ट-अप शुरू कर सकते हैं. इसके अलावा होटल, इवेंट मैनेजमेंट कंपनीज, वेडिंग प्लानर फम्र्स में भी हायरिंग होती है.
मंदी का खतरा नहीं -
इंडियन वेडिंग मार्केट करीब 25 प्रतिशत सालाना की दर से बढ़ रहा है. मैन्युफैक्चरर्स से लेकर रिटेलर्स तक, हर कोई वेडिंग सीजन का इंतजार करता है. इसके मद्देनजर वेडिंग इंडस्ट्री में कभी मंदी नहीं आ सकती है. लोग अब दिल खोलकर पैसे खर्च कर रहे हैं. ऎसे में पेशेवर वेडिंग प्लानर की डिमांड बढ़ रही है.
- See more at: http://www.newstracklive.com/news/vedin-planning-created-in-their-careers-1003076-1.html#sthash.Sf4fZ7Oh.dpuf

आज के युग में युवा पीढी अपने करियर को लेकर सजग हो गयी है. हर कोई करियर के क्षेत्र में एक दूसरे से आगे बढना चाहता है. युवाओ के लिये करियर बनाने के लिये कई रास्ते है और वह किसी भी क्षेत्र को चुन कर अपना करियर बना सकता है. इंडियन वेडिंग इंडस्ट्री युवाओं के इन्हीं सपनों को पूरा करने का एक मौका दे रही है. आज बडी तादाद में युवा, वेडिंग प्लानर के तौर पर अपने करियर का आगाज कर रहे हैं, क्योंकि वेडिंग प्लानिंग में उन्हें अपनी क्रिएटिविटी को पेश करने का सुनहरा अवसर मिल रहा है.
आज के दौर में अगर आपके पास क्रिएटिव आइडिया है और उसे हकीकत में बदलने का हुनर आता है, तो अपनी मनपसंद फील्ड में ऊंची उडान भरने के लिए पूरा आकाश है. इन दिनों अधिकतर युवा अपने पैशन को फॉलो करते हुए ऎसा करियर चुन रहे हैं, जिसमें काम करने का अपना एक अलग मजा हो. जहां मेहनत हो, तो साथ में पैसा भी भरपूर हो.
कोर्स और ट्रेनिंग -
वैसे तो इस फील्ड में आने के लिए किसी विशेष एजुकेशनल क्वालिफिकेशन की जरूरत नहीं होती, लेकिन ग्रेजुएशन करना अच्छा रहेगा. इंडिया में कुछ इंस्टीट्यूट्स हैं, जो वेडिंग प्लानिंग में सर्टिफिकेट या डिप्लोमा कोर्स संचालित करते हैं. इसके अलावा, आप होटल मैनेजमेंट, इवेंट मैनेजमेंट या फ्लोरल मैनेजमेंट जैसे कोर्स करके भी इसमें एंट्री ले सकते हैं.
स्कोप इन इंडस्ट्री -
इंडिया में थीम या डेस्टिनेशन वेडिंग का चलन तेजी से बढा है. लोग कुछ नया या भव्य करने के लिए खुलकर खर्च कर रहे हैं, उसे देखते हुए वेडिंग प्लानर की डिमांड भी बढने लगी है. ऎसे में जिन्हें भी नए-नए लोगों से मिलना, उनसे कॉन्टैक्ट स्थापित करना अच्छा लगता है, उनके लिए यह एक परफेक्ट प्रोफेशन है. वे चाहें, तो फ्लोरिस्ट, केटरर, फोटोग्राफर, ट्रैवल एजेंट आदि के रूप में भी काम कर सकते हैं या फिर कंसल्टेंसी या अपना स्टार्ट-अप शुरू कर सकते हैं. इसके अलावा होटल, इवेंट मैनेजमेंट कंपनीज, वेडिंग प्लानर फम्र्स में भी हायरिंग होती है.
मंदी का खतरा नहीं -
इंडियन वेडिंग मार्केट करीब 25 प्रतिशत सालाना की दर से बढ़ रहा है. मैन्युफैक्चरर्स से लेकर रिटेलर्स तक, हर कोई वेडिंग सीजन का इंतजार करता है. इसके मद्देनजर वेडिंग इंडस्ट्री में कभी मंदी नहीं आ सकती है. लोग अब दिल खोलकर पैसे खर्च कर रहे हैं. ऎसे में पेशेवर वेडिंग प्लानर की डिमांड बढ़ रही है.

Popular posts from this blog

जैव प्रौद्योगिकी में कैरियर

वनस्पति में करियर